10. December 2018

MDH Owner Mahashay Dharampal Gulati Biography । MDH के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी की जीवनी

spotyourstoryNovember 24, 2018
आज MDH एक बड़ा ब्रांड बन चूका है जिनके मसालों की धूम नाकि सिर्फ भारत भर मै है बल्कि दुनिया के हर देश मै है। धरमपाल जी का सालाना पैकेज 21 करोड़ ( Mahashay Dharmapal Gulati salary ) है ।

 

MDH Owner Mahashay Dharampal Gulati Biography । MDH के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी की जीवनी

 

वैसे तो शिक्षा का जीवन मै महत्वपूर्ण स्थान है पर आमतौर पर लोगों की धारना बन जाती है की शिक्षा के बिना तरक्की संभव नहीं है। लेकिन कम पढ़ा लिखा होना अभिशाप भी नहीं, देश हो या विदेश कुछ हस्तियाँ ऐसी भी हुई है जिनके जीवन मै कम पढ़ा लिखा होना आड़े नहीं आया। आज हम ऐसी हस्ती की बात बताने वाले है जो कम पढ़े लिखे होने के बावजूद सफल व्यवसायी बने।

महाशय दी हट्टी ‘MDH’ आज ये नाम बहुत बड़ा है। मसाला किंग MDH के नाम से महाशय धर्मपाल गुलाटी जी सफलता की बुलंदी पर है। इस सफलता के पीछे एक इंसान की संघर्ष भरी कहानी है जिसने कभी बहुत कठिनाई आने पर भी अपनी हिम्मत नहीं हारी और सारी मुश्किलों को हराकर, आज एक ऊंचाई तक पहुंचे है। महाशय धर्मपाल मसालों की सबसे बड़ी कंपनी MDH के चेयरमैन और विश्वपरिषद समाजसेवी है और इनकी गिनती देश के बड़े अरबपति मै होती है।

महाशय धरमपाल जी का जन्म 27 मार्च 1923 ( Mahashay Dharmapal Gulat date of Birth ) को सियालकोट मै हुआ था ज्योकी अब पाकिस्तान मै है। उनके पिता महाशय चुन्नीलाल सियालकोट मै मिर्च मसाले की दुकान चलाते थे। बचपन से ही धरमपाल जी का पढाई मै बिलकुल मन नहीं लगता। जिससे वो 5-वी क्लास मै फ़ैल हो गये और पढाई बीच मै ही छोड़ दी। और उसके बाद उनके पिताजी ने उन्हें कई छोटे मोटे काम जैसे साबुन, कपड़ा, चावल जैसे व्यापार बहोत से काम करवाए लेकिन इस व्यापारों मै वे ज्यादा देर नहीं टिक पाये और फिर उनके पिताजी ने उन्हें मिर्च मसाले दुकान पर काम के लिये रखा।

फिर 1947 मै जब देश आज़ाद हुआ तब सियालकोट पाकिस्तान का हिस्सा बन चूका था और तब ये परिवार सियालकोट छोड़कर दिल्ली सुरक्षा कैम्प रहने लगे । उस समय उनके पास सिर्फ 1500 रुपये थे और दो वक्त की रोटी कमाने के लिए उन्होंने 650 रुपये मै घोड़ा तांगा खरीद लिया जिससे वो न्यू दिल्ली स्टेशन से क़ुतुब रोड तक 2 आना प्रति सवारी चलाया करते थे।

लेकिन दिनभर तांगा चलाने पर वो इतना नहीं कमा पाते थे की अपने परिवार को ठीक से चला पाते तो उन्होंने तांगा छोड़कर अपना खानदानी काम मसाले बेचना शुरू करने का फैसला किया । और दिल्ली के करोलबाग मै उन्होंने लकड़ी के खोके मै अपनी मसालों की दुकान खोली ‘महाशय दी हट्टी’। उनकी ईमानदारी और मसालों की शुध्द्ता के कारण धीरे धीरे उनका काम बढ़ने लगा। जिससे उन्हें 1953 मै चांदनी चौक मै एक बड़ी दुकान किराये पर ली और धीरे धीरे उनके मसाले पुरे दिल्ली मै फेमस हो गये। और उसके बाद 1959 मै उन्होंने दिल्ली के कीर्तिनगर मै प्लाट लेके उसमे अपनी मसाला फैक्ट्री स्पाइस इंडस्ट्री की शुरुवात की और पुरे विश्वभर मै अपने कारोबार को फैलाया।

आज MDH एक बड़ा ब्रांड बन चूका है जिनके मसालों की धूम नाकि सिर्फ भारत भर मै है बल्कि दुनिया के हर देश मै है। धरमपाल जी का सालाना पैकेज 21 करोड़ ( Mahashay Dharmapal Gulati salary ) है । महाशय जी के इस रूप को छोड़कर उनका और एक रूप है वो है समाजसेवा इन्होने लोगों के हित को ध्यान मै रखते हुये कई बड़े अस्पतालों की स्थापना की । जिनमे आज हर तरह की सेवा उपलब्ध है। इसके अलावा महाशय धरमपाल जीने गरीब बच्चों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए कई स्कूल खोले। समाजकल्यान हेतु 20 से भी अधिक स्कूल, कॉलेज और अस्पताल का निर्माण कर चुके महाशय धरमपाल का कोई बिज़नेस मंत्र नहीं है । उनका कहना है की, दुनिया को वह दो जो आपके पास बेहतरीन हो और आपका दिया बेहतरीन अपने आप वापस आ जायेगा । कहाँ जाता है इंसान अपने परिस्तितियों का नहीं अपने फैसलों और कर्मो का परिणाम होता है।

पूरी तरह स्वस्थ हैं MDH के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी, निधन की उड़ी अफवाह ( Mahashay Dharmapal Gulati death Fake News):

एमडीएच मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी पूरी तरह से स्वस्थ हैं। दरअसल रविवार को एकाएक कुछ मीडिया रिपोर्ट्स आईं कि 95 साल की उम्र में राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली के एक अस्पताल में उनका निधन हो गया है। लेकिन बाद में ये अफवाह साबित हुई और वो पूरी तरह स्वस्थ हैं। उनके परिवार में उनका एक वीडियो भी जारी किया, जिसमें वो एकदम स्वस्थ दिख रहे हैं।

 

यदि आपके पास Hindi में कोई Article,Story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail (spotyourstory@gmail.com) करें.
यदि आपको ये कहानी पसंद आई हो तो इसे जरुर Facebook, WhatsAPP,Twitter पे शेयर करे अपने दोस्तों के साथ और निचे कमेंट करे.

 


हमारी स्टोरी

इस ब्लॉग का मिशन है की ऐसी स्टोरीज लोगो तक पहुचाई जाये जिससे लोग पढ़कर प्रेरित हो और उनके जीवन में लक्ष्य प्राप्त करनेका हौसला और बुलंद हो।

इस ब्लॉग मै सफल बिसनेस स्टोरीज, सोशल स्टोरीज, और कई प्रेरणादायी व्यक्तियों जीवन संघर्ष के बारे मै आपको पढ़नेको मिलेगी।

अगर आपके पास भी कोई ऐसी स्टोरी है जो आपको लगता है की ये समाज मै एक अलग अपनी छाव छोड़ सकती है तो आप हमारे साथ जरुर शेयर करे  ताकि हम उस स्टोरी को और लोगो तक पंहुचा
सकें जिससे और लोगो को लाभ हो।

Write Your story to –  spotyourstory@gmail.com


संपर्क करे

कॉल करे



Subscribe करे ब्लॉग को


Categories