17. November 2018

Baith Jata Hoon Mitti pe Aksar । बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर - हरिवंशराय बच्चन

spotyourstoryFebruary 27, 2018
हरिवंशराय बच्चन ( Harivansh Rai Bachchan ) द्वारा लिखित पंक्तिया .... बैठ जाता हू मिटटी पर अक्सर

Baith Jata Hoon Mitti pe Aksar । बैठ जाता हू मिटटी पर अक्सर – हरिवंशराय बच्चन 

बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर …क्योंकि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती है…
मैंने समंदर से सीखा है जीने का सलीक़ा,चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना ।

ऐसा नहीं है कि मुझमें कोई ऐब नहीं है पर सच कहता हूँ मुझमे कोई फरेब नहीं है
जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूंकि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले .!!.

एक घड़ी ख़रीदकर हाथ मे क्या बाँध ली..
वक़्त पीछे ही पड़ गया मेरे..!!

सोचा था घर बना कर बैठुंगा सुकून से..
पर घर की ज़रूरतों ने मुसाफ़िर बना डाला !!!

सुकून की बात मत कर ऐ ग़ालिब….
बचपन वाला ‘इतवार’ अब नहीं आता ।

शौक तो माँ-बाप के पैसो से पूरे होते हैं,
अपने पैसो से तो बस ज़रूरतें ही पूरी हो पाती हैं…

जीवन की भाग-दौड़ में –
क्यूँ वक़्त के साथ रंगत खो जाती है ?
हँसती-खेलती ज़िन्दगी भी आम हो जाती है…
एक सवेरा था जब हँस कर उठते थे हम और
आज कई बार बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है….

कितने दूर निकल गए,
रिश्तो को निभाते निभाते..
खुद को खो दिया हमने,
अपनों को पाते पाते…

लोग कहते है हम मुस्कुराते बहोत है,
और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते…
“खुश हूँ और सबको खुश रखता हूँ,
लापरवाह हूँ फिर भी सबकी परवाह
करता हूँ…

चाहता तो हु की ये दुनियाबदल दू ….
पर दो वक़्त की रोटी के जुगाड़ में फुर्सत नहीं मिलती दोस्तों…

महँगी से महँगी घड़ी पहन कर देख ली, वक़्त फिर भी मेरे हिसाब से कभी ना चला …!
युं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे … पता नही था की, ‘किमत चेहरों की होती है!!’

अगर खुदा नहीं हे तो उसका ज़िक्र क्यों ?? और अगर खुदा हे तो फिर फिक्र क्यों ???

“दो बातें इंसान को अपनों से दूर कर देती हैं, एक उसका ‘अहम’ और दूसरा उसका ‘वहम’……
“पैसे से सुख कभी खरीदा नहीं जाता और दुःख का कोई खरीदार नहीं होता।”
मुझे जिंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं,पर सुना है सादगी मे लोग जीने नहीं देते ।
किसीकी गलतियोका का हिसाब ना कर, खुदा बैठा है तू हिसाब ना कर ।

कई बार चंद ही पंक्तियोमे एक कवी जीवन एक अच्छे ढंग से जीने केलिए ऐसे चीज़े
हमें दे जाते है जो शायद हजारो किताबो मे नहीं मिल पाती ।

– हरिवंशराय बच्चन ( Harivansh Rai Bachchan in Hindi poem ) 

Image Credits : indianexpress.com

Shivaji Maharaj Motivational Quotes । शिवाजी महाराज के प्रेरणादायी विचार

Anmol Vichar for Success in Life । सफलता के लिए प्रेरणादायी सुविचार

MS Dhoni Biography in Hindi । महेंद्रसिंह धोनी का जीवन परिचय

DR. Vivek Bindra Biography in Hindi । डॉ . विवेक बिंद्रा की जीवनी
यदि आपके पास Hindi में कोई Article,Story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail (spotyourstory@gmail.com) करें.
यदि आपको ये Motivational कविता पसंद आयी हो तो  शेयर करे अपने दोस्तों के साथ और निचे कमेंट करे.


हमारी स्टोरी

इस ब्लॉग का मिशन है की ऐसी स्टोरीज लोगो तक पहुचाई जाये जिससे लोग पढ़कर प्रेरित हो और उनके जीवन में लक्ष्य प्राप्त करनेका हौसला और बुलंद हो।

इस ब्लॉग मै सफल बिसनेस स्टोरीज, सोशल स्टोरीज, और कई प्रेरणादायी व्यक्तियों जीवन संघर्ष के बारे मै आपको पढ़नेको मिलेगी।

अगर आपके पास भी कोई ऐसी स्टोरी है जो आपको लगता है की ये समाज मै एक अलग अपनी छाव छोड़ सकती है तो आप हमारे साथ जरुर शेयर करे  ताकि हम उस स्टोरी को और लोगो तक पंहुचा
सकें जिससे और लोगो को लाभ हो।

Write Your story to –  spotyourstory@gmail.com


संपर्क करे

कॉल करे



Subscribe करे ब्लॉग को


Categories